अगर-smart-phone-हो-गया-है-slow-तो-ये-तरीके-आएंगे-आपके-काम

अगर smart phone हो गया है slow तो ये तरीके आएंगे आपके काम | और इस वजह से आप हमेशा परेशान रहते हैं तो आज हम अपने Article द्वारा आपको कुछ ऐसी जरूरी बातें बताएंगे जो आपके काम आएंगी। कई बार हम लोगों की गलितयों के कारण भी Smart Phone की गति या कह लीजिए speed धीरे हो जाती है। शुरुआत में तो Smart Phone ठीक-ठाक चलते हैं, लेकिन समय के साथ user को एहसास होता कि उनका Phone अब पहले की तरह तेज गति से काम नहीं कर रहा। android Smart Phone के स्लो होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। यदि आप भी अपने android Smart Phone से परेशान हैं तो नीचे बताए गए रामबाण tips को आजमा सकते हैं।

1) Apps, wallpaper और अन्य गेर जरूरी चीजों को हटाएं

Phone में storage को देखते हुए Apps को install करना चाहिए। अधिक संख्या में Apps की मौजूदगी से भी Smart Phone स्लो हो सकता है। Phone में ढेरों application होने के बाद जब Phone धीमा होने लगे तो खुद से सवाल कीजिए कि इनमें से कितनी ऐसी Apps हैं जिन्हें आप use करते हैं। जो Apps आपके जरूरत के नहीं है उन्हें Phone से हटा लेने में ही समझदारी है। गौर करने वाली बात यहां ये भी है कि Phone में पहले से कुछ ऐसी प्री-लोड Apps आती हैं जिन्हें चाहकर भी हटाया नहीं जा सकता। ऐसे में उन्हें disable कर देना चाहिए। Google play store में कई लाइव wallpaper मौजूद हैं। बता दें कि लाइव wallpaper एवं home screen पर अधिक संख्या में widgets भी Smart Phone को धीमा कर देते हैं। Phone को स्लो होने से बचाना चाहते हैं तो ऐसे में normal wallpaper और home screen पर उन्हीं widgets को रखें जो आपके काम के हैं।

2) Cache क्लियर करना है जरूरी

आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि जिन applications को बार-बार use में लाया जाता है उनके cache एकत्रित होने लगते हैं। Smart Phone स्लो होने का एक मुख्य कारण यह भी हो सकता है। ऐसे में सलाह दी जाती है कि जिस भी ऐप का आप सबसे ज्यादा use करते हैं उसके cache को नियमित रूप से डिलीट करते रहें। cache को क्लियर करने के बाद जब भी ऐप को दोबारा use किया जाएगा, यह फिर से एकत्रित होना शुरू होंगे। आइए अब आपको बताते हैं कि cache को हटाने का आसान तरीका। cache को हटाने के लिए सबसे पहले Settings>Apps में जाएं। यहां उस ऐप पर क्लिक करें जिसके cache को क्लियर करना है। क्लिक करने के बाद आपको ‘Clear cache’ विकल्प पर क्लिक करना है।
 

3) इनबिल्ट storage को क्लियर करें

एक बात हमेशा याद रखिए और वह यह है कि यदि आप Phone को धीमा होने से बचाना चाहते हैं को ऐसे में टोटल इनबिल्ट storage का 10 से 20 प्रतिशत उपलब्ध होना जरूरी है। जैसा कि आप तस्वीर में देख पा रहे हैं कि जब Phone की storage खत्म होने लगती है तो ऐसी स्थिति में Phone धीमा होना शुरू हो जाता है। ऐसे में सलाह दी जाती है कि cache क्लिन करने के अलावा Smart Phone में केवल उन्हीं Apps को जगह दें जो आपके काम की हैं। यदि आपके Phone की भी इनबिल्ट storage कम है तो सबसे अच्छा विकल्प है कि इंटरनल storage में मौजूद तस्वीरे, म्यूजिक और वीडियो फाइल को माइक्रोएसडी कार्ड में मूव कर दें। चुनिंदा Apps को भी इनबिल्ट storage से कार्ड में मूव करने का विकल्प होता है। ऐसा करने के लिए आपको Settings>App में जाना होगा। आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि पुराने android वर्जन पर चल रहे Phone इस फीचर से लैस नहीं है।
 

4) फर्मवेयर अपडेट की जांच करें

Smart Phone के फर्मवेयर अपडेट से Phone में कई तरह के सुधार भी देखने को मिलते हैं, इसमें मुख्य रूप से परफॉर्मेंस ऑप्टिमाइजेशन शामिल है। यदि आपको भी अपने हैंडसेट से शिकायत रहती है तो आपको सेटिंग्स में जाकर इस बात की जांच कर लेनी चाहिए कि कंपनी द्वारा आपके Phone को सॉफ्टवेयर अपडेट तो नहीं मिला है। जांच के लिए Settings>System>About>Software Updates में जाएं। यदि कोई सॉफ्टवेयर अपडेट मिलता है तो हम सलाह देंगे कि Phone को अपडेट करने से पहले बैकअप जरूर ले लें।

फर्मवेयर क्या है? What is Firmware? 

 5) एनिमेशन को करें disable

आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि एनिमेशन्स मुख्य रूप से मेन्यू, ऐप ड्राअर्स एवं अन्य इंटरफेस लोकेशन्स में ग्राफिकल ट्राजिशन के बीच काम करते हैं। Smart Phone use के दौरान एनिमेशन एक्टिव रहते हैं, यह केवल Phone use के अनुभव को बेहतर बनाने का काम करते हैं। यदि आपको ऐसा लग रहा है कि आपका Smart Phone धीमा होने लगा है तो इन्हें बंद कर दें। गौर करने वाली बात यहां ये भी है कि इन्हें बंद करना भी आसान कार्य नहीं है, क्योंकि अकसर यह विकल्प ‘Developers options’ में छिपा होता है। डेवलपर ऑप्शन आपको सेटिंग्स में मिलेगा। डेवलपर ऑप्शन में आपको सभी एनिमेशन दिखने लगेंगे आप चाहें तो इन्हें बंद कर सकते हैं। बता दें कि डेवलपर ऑप्शन में किसी अन्य विकल्प के साथ छेड़छाड़ ना करें।